खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए मक्का खरीदी की हुई शुरूआत
 खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए मक्का खरीदी की हुई शुरूआत
जिले के 19 हजार 863 कृषक समर्थन मूल्य में बेचेंगे मक्का

नवनीत पांडेय,जिला ब्यूरो की रिपोर्ट 

बलरामपुर:-खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए कृषि उपज मंडी रामानुजगंज में किसानों से समर्थन मूल्य में मक्का की खरीदी की शुरूआत की गई। सरगुजा विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष तथा रामानुजगंज विधायक  बृहस्पति सिंह, कलेक्टर  श्याम धावड़े तथा पुलिस अधीक्षक  रामकृष्ण साहू ने तराजू की पूजा अर्चना तथा मक्का तौलकर खरीदी का कार्य विधिवत प्रारंभ किया। राज्य शासन के मंशानुरूप जिले में मक्का के पैदावार को देखते हुए मक्का खरीदी का कार्य प्रारंभ करने का निर्णय लिया गया है तथा माननीय मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जिला प्रवास के दौरान अधिकारियों को शीघ्र मक्का खरीदी का प्रारंभ करने के निर्देश दिए थे। मुख्यमंत्री के निर्देशानुसार जिला प्रशासन द्वारा वर्तमान खरीफ वर्ष के लिए जिले के किसानों से मक्का खरीदी का कार्य प्रारंभ किया गया है। खरीफ विपणन वर्ष 2020-21 के लिए बलरामपुर-रामानुजगंज, छत्तीसगढ़ का पहला जिला है जहां मक्का खरीदी की शुरूआत की गई है। जिले के 19 हजार 863 पंजीकृत कृषकों से मक्के की खरीदी 31 मई 2021 तक की जायेगी। मक्का उत्पादन कर रहे कृषकों द्वारा इस दौरान अपना अनुभव अधिकारियों के साथ साझा किया गया।
कृषि उपज मंडी रामानुजगंज में मक्का खरीदी के लिए समिति प्रबंधक तथा विभागीय अधिकारियों द्वारा सभी तैयारियां पूर्ण कर मक्का खरीदी का कार्य प्रारंभ किया गया है। नागरिक आपूर्ति निगम के गुणवत्ता निरीक्षक ने कहा की प्रति एकड़़ 10 क्ंिवटल मक्के की खरीदी की जायेगी तथा मक्के की गुणवत्ता के जांच उपरांत ही खरीदी होगी। नमीयुक्त मक्के की खरीदी नहीं की जायेगी अतः किसान मक्के को अच्छे से सूखा कर सैम्पल जांच के लिए मंण्डी लाये। जांच में नमी की मात्रा सही पाये जाने पर ही मक्का खरीदा जायेगा। मक्का बेचने आए किसानों से चर्चा करते हुए विधायक  बृहस्पति ने बताया की मुख्यमंत्री के मंशानुरूप जिले के किसानों के हितों की रक्षा करते हुए आज इस ऐतिहासिक निर्णय को साकार रूप दिया गया है, जहां जिले के किसान धान के साथ-साथ समर्थन मूल्य पर मक्का का विक्रय कर पाएंगे। उन्होंने कहा कि जिले के किसान बड़े चिंतित थे कि उनके द्वारा उत्पादित मक्का का उचित दाम नहीं मिल पा रहा है, ऐसे में मक्का का सही दाम मिलने से किसानों की आर्थिक परेशानियां भी दूर होंगी तथा मक्का की पैदावार भी बढ़ेगी। उन्होंने मक्का खरीदी के इस पहल के लिए राज्य शासन के साथ-साथ जिला प्रशासन तथा उनकी पूरी टीम के प्रति आभार व्यक्त किया है। कलेक्टर  श्याम धावडे ने किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि बलरामपुर में विशेषकर विकासखंड रामचंद्रपुर तथा इसके आसपास के क्षेत्रों में किसान बड़ी संख्या में मक्का की फसल लेते हैं और मक्का किसानों को खुले बाजार में इसका उचित दाम नहीं मिल पाता हैं। मक्का का उचित दाम ना मिल पाने से किसानों को आर्थिक संकट का सामना करना पड़ता है लेकिन अब किसानों को फसल का सही दाम मिलेगा। उन्होंने कहा कि मक्का की एक विशेषता है कि इसमें लंबे समय तक नमी धारण करने की क्षमता होती है तथा नमी युक्त मक्के को लंबे समय तक संग्रहित करके रखना बड़ा कठिन काम है। इसलिए किसान मक्के को अच्छे से सूखा कर मक्के का सैंपल जमा करें ताकि उसकी गुणवत्ता तथा नमी की जांच कर उसकी खरीदी की जा सके। कलेक्टर धावड़े ने कहा कि किसानों के पास पर्याप्त समय है, मक्के की खरीदी 31 मई तक की जाएगी इसलिए किसान भ्रमित ना हो और ना ही हड़बड़ी में नमीयुक्त मक्का मंडी में लेकर आएं। उन्होंने खरीदी कार्य से जुडे़ अधिकारियों को कहा कि धान खरीदी की तरह ही मक्का खरीदी के दौरान किसानों को किसी भी प्रकार की समस्या न हो इसका ध्यान रखा जाए। पुलिस अधीक्षक  रामकृष्ण साहू ने भी मक्का खरीदी के प्रशासन के इस पहल की सराहना करते हुए इसे किसान के हित में बताया। उन्होंने कहा कि इससे किसानों का प्रशासन के प्रति विश्वास बढ़ेगा और उनके आय में भी वृद्धि होगी। इस अवसर पर मक्का बेचने आए कृषकों ने भी अपने अनुभव साझा करते हुए विधायक तथा अधिकारियों को अवगत कराया कि जिले में यह पहला मौका है जब समर्थन मूल्य पर मक्के की खरीदी की जा रही है। पस्ता से रामानुजगंज मंडी पहुंचे किसान लालसाय ने बताया कि उन्होंने कभी समर्थन मूल्य पर मक्का खरीदी की बात नहीं सुनी थी तथा जब गिरदावरी के समय मक्का खरीदी के पंजीयन की बात की गई तब भी यह यकीन नहीं हो रहा था कि सच में मक्के की खरीदी की जाएगी।  किंतु आज समर्थन मूल्य में मक्का खरीदी का सपना साकार हो रहा है, उन्होंने इस पहल के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल व विधायक बृहस्पत सिंह तथा जिला प्रशासन अधिकारियों का आभार व्यक्त किया।
इस दौरान अनुविभागीय अधिकारी राजस्व रामानुजगंज  अभिषेक गुप्ता, जिला खाद्य अधिकारी, नागरिक आपूर्ति निगम के अधिकारी, जनप्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, समिति के अधिकारी-कर्मचारी सहित कृषक उपस्थित थे।
Popular posts
चमोली उत्तराखंड , लोलटी के बुल खेला गवाडो तोक तक सड़क तो पहुंचाओ सरकार।
इमेज
थराली थाना पुलिस ने विकासखंड देवाल के अंतर्गत राजस्व उपनिरीक्षक क्षेत जैनबिष्ट के एक युवक को शादी का झांसा देकर एक युवती से शारीरिक संबंध बनाने के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी को न्यायालय ने जेल भेज दिया हैं।
इमेज
राजस्थान राज्य के भैरूलाल नामा और सुरेश सुखाड़िया ने किया संयुक्त किसान मौर्चा के आन्दोलन शाहजहांपुर में अनशन
इमेज
राज्य की ग्रीष्मकालीन राजधानी गैरसैण के परिक्षेत्र में पिंडर घाटी के थराली एवं नारायणबगड़ के क्षेत्रों को भी सम्मिलित करने की मांग जोर पकड़ने लगी है। इस संबंध में थराली के उपजिलाधिकारी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा गया है।
इमेज
अधूरे निर्माण कार्य एवं प्रधानमंत्री आवास योजना मे भ्रष्टाचार की जांच की मांग को लेकर की शिकायत
इमेज