पीएससी प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम निरस्त करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन
पीएससी प्रारंभिक परीक्षा के परिणाम निरस्त करने की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन



कन्नौद। म.प्र. अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ(अजाक्स) तहसील ब्लॉक कन्नौद द्वारा जिलाध्यक्ष देवास कैलाश मालवीय एवं तहसील अध्यक्ष नन्दलाल हरियाले के नेतृत्व में मप्र लोक सेवा आयोग द्वारा घोषित प्रारंभिक परीक्षा 2019 का परिणाम जिसमें अनारक्षित मेरिट में आरक्षित वर्ग(अनुसूचित जाति/जनजाति/पिछडा वर्ग/व महिलाओं) को स्थान नहीं दिये जाने के कारण परिणाम निरस्त करने के लिए ज्ञापन अनुविभागीय अधिकारी श्री नरेन्द्र सिंह धुर्वे  के द्वारा 1. महामहिम राज्यपाल महोदय म.प्र. शासन राज्यभवन भोपाल 2. माननीय मुख्यमंत्री महोदय म.प्र. शासन भोपाल के नाम दिया गया।
इसके कारण आरक्षित वर्ग के हजारों आवेदक मुख्य परीक्षा देने से वंचित रह गए। मांग की गई कि आयोग द्वारा घोषित राज्य सेवा परीक्षा 2019 का परिणाम निरस्त कर अनारक्षित वर्ग की मेरिट में आरक्षित वर्ग के आवेदकों को भी शामिल कर पूना रिजल्ट घोषित किया जाए। जबकि सर्वोच्च न्यायालय के निर्णय में स्प्ष्ट आदेशित किया गया है कि अनारक्षित वर्ग में भी मेरिट में आरक्षित वर्ग के आवेदकों को शामिल किया जाए। ज्ञापन का वाचन जिला प्रवक्ता हेमराज गोखले ने किया।,जिला सयुंक्त सचिव सुरेश उईके, ब्लॉक उपाध्यक्ष भगवतसिंह पुरबिया, तहसील सयुंक्त सचिव श्रीमति उषा रावत , तहसील सयुंक्त सचिव सुरजलाल डांडे , सामाजिक न्याय अधिकारी राजू प्रजापति, ओमप्रकाश सिरसोट, दुर्गेश साँवले,आदि उपस्थित थे।

कन्नौद से श्रीकांत पुरोहित की रिपोर्ट