गर्भवती माताओ एवं बच्चो की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी- कलेक्टर

 


गर्भवती माताओ एवं बच्चो की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी- कलेक्टर
प्रसव केन्द्रो में जोखिम वाली गर्भवती माताओ एवं शिशुओ के लक्षणो को प्रदर्षित करने वाले फ्लैक्स लगाए- डॉ. सतेन्द्र सिंह
शहडोल | 14-दिसम्बर-

   कलेक्टर एवं जिला मजिस्ट्रेट डॉ. सतेन्द्र सिंह ने जनप्रतिधियो, स्वयं सेवी संस्थाओ, प्रबुद्व नागरिको, इलेक्ट्रानिक एवं प्रिंट मीडिया  से जुडे हुए लोगों के साथ-साथ समाजसेवियो एवं परिवार के अभिभावको से अपील करते हुए कहा है कि, गर्भवती माताओं एवं बच्चो की सुरक्षा हम सब की जिम्मेदारी है। हम  आप सभी समन्वय, समझाईस एवं त्वरित उपचार प्रदान करवाने में अपना सहयोग प्रदान करे तथा असमय होने वाली गर्भवती माताओं एवं शिशुओ की मृत्यु में नियंत्रण ला सकते है। उन्होने कहा कि, जिला का स्वास्थ्य विभाग एवं ऑगनवाड़ी विभाग का मैदानी अमला ग्राम स्तर पर गर्भवती माताओ का शीघ्र पंजीयन करने के साथ-साथ समय-समय पर टीकाकरण एवं माताओ एवं बच्चो को कुपोषण से बचाने के लिये पोषण आहार के साथ-साथ आयरन की गोलियां भी दें एवं समाज तथा परिवार को समझाईस देकर यह व्यवहार परिवर्तन लाने के प्रयास करे कि सामजिक कुरीतियो के चलते  बच्चे को न दागा जाए साथ ही जन्म के तुरंत बाद बच्चे को मॉ का दूध पिलाया जाए क्यांेकि बच्चे को दागने से बच्चे में घांव हो जाते है और बच्चा असमय काल के गाल में समा जाता है।
   कलेक्टर ने कहा कि, हमें तीन विंलब दूर करना है जिसमें प्रथम  गर्भवती माताओ एवं बच्चे को अस्पताल ले जाने में विलंब, इसी प्रकार बच्चे को अस्पताल ले जाने में परिवहन में विलंब तथा तीसरा अस्पताल पहुंचने में बच्चे  को त्वरित चिकित्सा सुविधा उपलब्ध कराने में विलंब, हम सब मिलकर यह प्रयास करे कि, किसी प्रकार की आपातकालीन स्थिति में तत्काल  गर्भवती माताओ एवं बच्चे का निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र भिजवाएं, स्वास्थ्य केन्द्र में उनका तत्काल उपचार किया जाए और आवष्यकता पड़ने पर ही उन्हें वरिष्ठ अस्पताल रिफर किया जाए क्योंकि, वरिष्ठ अस्पताल पहुचने में विलंब से गर्भवती माताओ एवं बच्चो की हालत बिगड़ जाती है। जिससे उन्हें बचा पाना संभव नही हो पाता।
       कलेक्टर ने स्वास्थ्य विभाग एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारियो को सतत पर्यवेक्षण करने के निर्देश देते हुए कहा है कि, स्वास्थ्य विभाग व्ही.एच.एन.डी. की बैठको में जोखिम वाली गर्भवती माताओ एवं जोखिम वाले बीमारी के शिशु के लक्षणो को समझाएं साथ ही सभी डिलेवरी केन्द्रो में जोखिम वाले शिशुओ की बीमारी के लक्षणो एवं जोखिम वाली गर्भवती माताओ के लक्षणो को प्रदर्शित करने वाले के फ्लैक्स भी लगाए जाए। कलेक्टर ने कहा है कि हम सब मिलकर यह प्रयास करे कि, असमय गर्भवती माताओ एवं शिशु की मृत्यु न हो और समय रहते सामाजिक कुप्रथाओ से दूर रहकर गर्भवती माताओ एवं शिशुओ की रक्षा हो सके।