साढ़ू की बेटी से था प्रेम प्रसंग इसलिए जिजा साले ने मिलकर कर दी हत्या 2 साल बाद हुआ ब्लाइंडर मर्डर का पर्दाफाश एसपी ने किया खुलासा....

 साढ़ू की बेटी से था प्रेम प्रसंग ... इसलिए जिजा साले ने मिलकर कर दी हत्या.... 2 साल बाद हुआ ब्लाइंडर मर्डर का पर्दाफाश... एसपी ने किया खुलासा....


 नवनीत पांडेय 

जिला ब्यूरो

बलरामपुर:- रामानुजगंज


 बलरामपुर जिले की सिटी कोतवाली पुलिस ने 2 वर्ष पूर्व हुए एक अंधे कत्ल की गुत्थी को सुलझाने में सफलता हासिल की है। पुलिस ने इस मामले में दो लोगों की गिरफ्तारी की है, जो आपस में रिश्तेदार है। वहीं इस मामले का खुलासा करते हुए एसपी  रामकृष्ण साहू ने बताया कि प्रेम प्रसंग की वजह से यह हत्या हुई, जिसे आत्महत्या का रूप दिया गया था।



दरअसल 16 नवंबर 2018 को पुलिस को बलरामपुर थाना क्षेत्र के ग्राम पंचायत में एक युवक की लाश मिली थी। जिसकी शिनाख्ती  गांव के ही 17 वर्षीय अंकित कुजूर के रूप में की गई थी और पुलिस ने मामले में मर्ग कायम करते हुए, मृतक के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा था, पुलिस की टीमें मृतक के संबंध में ग्रामीणों से पूछताछ में जुटे हुए थे, इसी दौरान मृतक अंकित के प्रेम प्रसंग के संबंध में पुलिस को जानकारी मिली, जिसके बाद पुलिस के जांच का दायरा बढ़ता गया।



एसबीआई रामकृष्ण साहू के मुताबिक मृतक अंकित का प्रेम प्रसंग आरोपी राजकुमार उर्फ चौहकी पिता लमरु  कोडाकू के साढू के बेटी से था, जिसके चलते राजकुमार परेशान था। और उसने अपने साले सारंगपुर निवासी शिवबालक उर्फ नटवा पिता जागेश्वर कोडाकू  के साथ मिलकर योजनाबद्ध तरीके से 15 नवंबर 2018 को मृतक अंकित को अपने घर में बुलाकर शराब पिलाई। और  शराब में कीटनाशक मिला दिया था। जिसकी वजह से अंकित की मौत हो गई। जिसके बाद आरोपियों ने अंकित की लाश को गांव कहीं सुनसान जगह पर ठिकाने लगाने के उद्देश्य से ले जाकर रख दिया।


बहरहाल पुलिस ने इस मामले को रेंज आईजी  रतनलाल डांगी और एसपी रामकृष्ण साहू के मार्गदर्शन और एडिशनल एसपी प्रशांत कतलम एवं एसडीओपी रामानुजगंज नितेश गौतम के निर्देशन में सुलझा लिया है। इस मामले को सुलझाने में बलरामपुर सिटी कोतवाली प्रभारी सुरेंद्र ऊके , सऊनी राजेश कुमार शाह , प्रधान आरक्षक चंद्रकुमार राजपूत, महिला प्रधान आरक्षक मालती तिवारी, आरक्षक द्वय  कुमार सानू, संजय साहू, लालदेव साय, गजेंद्र भगत का सराहनीय योगदान रहा।