खाद्यान्न पात्रता पर्ची मिल जाने से भरण-पोषण की चिंता हुई दूर (खुशियों की दास्तां)

 




खाद्यान्न पात्रता पर्ची मिल जाने से भरण-पोषण की चिंता हुई दूर (खुशियों की दास्तां)

-
रायसेन | 29-नवम्बर-

 
   खाद्यान्न पात्रता पर्ची नहीं होने से सरकारी राशन दुकान से अनाज नहीं मिलने के कारण परिवार का भरण-पोषण करने में बड़ी समस्या होती थी। मजदूरी करने से जो थोड़ी बहुत आमदानी होती है, उसी से बाजार से अनाज खरीदना पड़ता था। लॉकडाउन में काम नहीं मिलने से परिवार के भरण-पोषण में बहुत कठिनाई आने लगी, लेकिन खाद्यान्न पर्ची मिल जाने से बहुत बड़ी चिंता दूर हो गई। यह कहना है कि रायसेन निवासी श्री कमलू सिंह का। मध्यप्रदेश सरकार द्वारा अन्न उत्सव के माध्यम से सस्ते दर पर खाद्यान्न का लाभ देने के लिए प्रदेश के 37 लाख से अधिक लोगों को पात्रता पर्ची वितरित की गई।
    खाद्यान्न पात्रता पर्ची के वितरण से कमलू सिंह और उनका परिवार अब प्रसन्न है। कमलू सिंह बताते हैं कि पात्रता पर्ची मिल जाने से अब उन्हें बहुत कम रूपए में सरकारी राशन दुकान से अनाज मिल जाता है। कमलू सिंह के परिवार में दो लड़की और एक लड़के सहित पांच सदस्य हैं। मजदूरी से इतना पैसा नहीं मिलता था कि वे बाजार से अधिक कीमत पर अनाज खरीज सके। लेकिन पात्रता पर्ची मिल जाने से अब उनकी परिवार के भरण-पोषण की चिंता दूर हो गई है। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान को धन्यवाद देते हुए कमलू सिंह कहते हैं कि मुख्यमंत्री जी ने कोरोना महामारी के कठिन समय में उन जैसे 37 लाख से अधिक लोगों को पात्रता पर्ची प्रदान कर बहुत बड़ी राहत दी है।