गर्भवती माताओं के टीकाकरण, ए एन सी  पंजीयन व स्वास्थ्य एवं महिला एवं बाल विकास विभाग

होशंगाबाद - द्वारा संचालित योजनाओं एवं कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु  जिले में  स्वास्थ्य पखवाड़ा का आयोजन किया जाएगा। यह निर्देश कलेक्टर धनंजय सिंह ने आज आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में दिए। कलेक्टर ने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी एवं जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग को निर्देशित किया कि स्वास्थ्य पखवाड़े  के माध्यम से आमजन तक बेहतर तरह से स्वास्थ्य सेवाएं पहुंचाई जाए तथा उन्हें स्वास्थ्य सम्बन्धी योजनाओं से लाभान्वित किया जाए। पखवाड़े के सफल संचालन के लिए सेक्टर वाइज चिकित्सकों एवं अधिकारी कर्मचारी की ड्यूटी लगाई जाए तथा उन्हें दायित्व सौंपे जाएं। कलेक्टर ने सभी एसडीएम, जनपद सीईओ को निर्देशित किया कि वे स्वास्थ्य पखवाड़ा कार्यक्रम अंतर्गत संचालित स्वास्थ्य गतिविधियों की सघन मॉनिटरिंग करें । कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि आगामी 4 नवंबर को स्वास्थ्य पखवाड़े एवं स्वास्थ्य संबंधी कार्यक्रमों व योजनाओं की समीक्षा की जाएगी। उक्त कार्यक्रमो में खराब परफॉर्मेंस करने वाले चिकित्सकों /अधिकारी के विरोध कठोर कार्रवाई की जाएगी एवं अच्छा कार्य करने वालों को प्रोत्साहित किया जाएगा।
कलेक्टर श्री सिंह ने निरोगी काया अभियान की समीक्षा की। उन्होंने अभियान में चिन्हित लोगों के स्क्रीनिंग कार्य में 60 प्रतिशत से कम प्रगति वाले डिस्ट्रिक्ट कम्युनिटी मोबिलाइजर एवं ब्लॉक प्रोग्राम मैनेजर को 3 दिन के वेतन काटने एवं कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने स्वास्थ्य संबंधी योजनाओं एवं कार्यक्रमों कि मैदानी स्तर पर मॉनिटरिंग में कमी पाए जाने पर गंभीर नाराजगी व्यक्त की  उन्होंने मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारियों को मैदानी स्वास्थ्य अमले की लगातार सूक्ष्म मॉनिटरिंग करने के निर्देश दिए । उन्होंने चिकित्सकों एवं मेडिकल स्टाफ की समय-समय पर  स्वास्थ्य कार्यक्रम आधारित वर्कशॉप एवं ट्रेनिंग कार्यक्रम आयोजित करने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में  कोविड़ 19, टीकाकरण , मलेरिया उन्मूलन ,राष्ट्रीय क्षय उन्मूलन कार्यक्रम, निरोगी काया अभियान आदि कार्यक्रमों की विस्तार से समीक्षा की। बैठक में जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉक्टर दिनेश कौशल, जिला कार्यक्रम अधिकारी ललित डेहरिया सहित सभी ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर एवं परियोजना अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग उपस्थित रहें।
प्रदीप गुप्ता की रिपोर्ट